Tag «kamukta»

उसके गुलाबी होठों को चूमना

Antarvasna, kamukta: मेरा परिवार अब पुणे में शिफ्ट हो चुका था और मैं पुणे में ही नौकरी करने लगा था। जब हम लोग दिल्ली में रहा करते थे तो दिल्ली में मेरी मुलाकात कोमल से हुई थी वह हमारे पड़ोस में ही रहती थी लेकिन जब उससे मेरी बात होने लगी तो उसके बाद पापा …

सुरभि की उत्तेजित कर दिया

Antarvasna, desi kahani: भैया की शादी नजदीक आने वाली थी और घर में भी शादी की तैयारियां शुरू हो चुकी थी सब लोग शादी की तैयारियां कर रहे थे। जब भैया की शादी हो गई तो भैया कुछ दिनों तक घर पर ही रहे और फिर वह विदेश चले गए। मैं पापा के बिजनेस में …

सुहानी के साथ की सुहानी यादें

Antarvasna, hindi sex story: मैं कुछ दिनों पहले ही मुंबई से घर लौटा था और मैं कुछ समय तक घर पर ही था क्योंकि पापा और मम्मी चाहते थे की मैं अपने ऑफिस से कुछ दिनों की छुट्टी ले लूं। मैंने अपने ऑफिस से कुछ दिनों की छुट्टी लेली थी और फिर हम लोग फैमिली …

दोनो हाथो मे चूत का सुख

Antarvasna, hindi sex stories: कॉलेज खत्म होने के बाद मैं कहीं नौकरी की तलाश में था लेकिन मुझे मेरे हिसाब से नौकरी नहीं मिल पा रही थी। मैं रोज सुबह नौकरी की तलाश में निकलता और खाली हाथ शाम को वापस लौट आता ऐसे ही कई दिन तक मैं अलग-अलग जगह इंटरव्यू देने के लिए गया …

मैं अपने ही मायके में चुद गई

Antarvasna, hindi sex kahani, kamukta जब घर में दो बर्तन होते हैं तो आपस में टकराते जरूर हैं और ऐसा ही कुछ मेरे और मेरी सासू मां के बीच में था लेकिन मैंने कभी भी उन्हें कुछ कहा नहीं था। मैं एक दिन देर से उठी तो मेरी सासू मां मुझे कहने लगी तुम बड़ी …

डगमगाते कदमो की गलती

Antarvasna, hindi sex story, kamukta मैं अपने कमरे में अपना सामान पैक कर रही थी तभी मेरी मम्मी कमरे में आई और वह कहने लगी सुगंधा बेटा कमरे की हालत तुमने क्या कर रखी है सामान देखो कितना बिखरा पड़ा है। मैंने मम्मी से कहा मम्मी मैं पैकिंग कर रही हूं मम्मी कहने लगी तुम …

विजय का प्यार अब भी मेरे दिल में

Antarvasna, hindi sex kahani, kamukta सुबह मॉर्निंग वॉक से लौटने के बाद अपने ऑफिस जाने की तैयारी करने लगे मैं जब घर आई तो बच्चों से कहा कि चलो तुम जल्दी से तैयार हो जाओ लेकिन बच्चे कहां मानने वाले थे। वह कहने लगे मम्मी नहीं आप ही हमें नहला दो और आखिरकार मुझे ही …

पहली रात चूत की पेलाई

Antarvasna, hindi sex kahani, kamukta हम सब लोग रात के वक्त खाने की टेबल में बैठे हुए थे और बातें घूम फिर कर मेरी तरफ आ गई पिताजी मुझे कहने लगे प्रकाश बेटा क्या तुमने अपनी शादी के बारे में कुछ सोचा है। मैंने उन्हें मना कर दिया और कहा नहीं पिताजी मुझे अभी शादी …

मन डोला तो तन डोला

Antarvasna, hindi porn stories, kamukta रविवार का दिन था उस दिन मेरी छुट्टी थी और मैं जल्दी उठ गया था मेरी पत्नी संजना भी उठ चुकी थी सूरज की किरने भी अब घर के बरामदे में आने लगी थी मैंने संजना से पूछा क्या अखबार आ गया है। संजना ने कहा हां अखबार तो आ …

चूत को नहला दिया

Antarvasna, hindi sex story, kamukta पापा ना जाने क्या क्या सपने देखते रहते थे मैं हमेशा ही सोचता कि क्या कभी पापा के सपने पूरे भी हो पाएंगे पापा के दिल में भी आखिरकार कोई चाहत थी जो अधूरी रह गई थी। मैं पापा के सबसे ज्यादा नजदीक था इसलिए उनसे पूछ लिया करता था …