मुझे दोबारा चोदो जानू

Antarvasna, sex stories in hindi: मेरे और काजल के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा था हम दोनों का रिश्ता टूटने की कगार पर था मैंने सोच लिया था कि मैं काजल से डिवोर्स ले लूंगा। मैंने काजल से डिवोर्स लेने का पूरा मन बना लिया था और जब मैंने काजल से डिवोर्स लेने की बात कही तो काजल भी कहने लगी कि संजय अगर हम दोनों एक दूसरे के साथ एडजेस्ट नहीं कर पा रहे हैं तो हम दोनों को डिवोर्स ले लेना चाहिए। काजल बहुत ही खुले विचारों की है हम दोनों ने दो साल पहले लव मैरिज की थी लेकिन किसी कारण से हम दोनों की शादी अच्छे से चल नहीं पा रही थी ना जाने उसके पीछे क्या बात थी लेकिन हम दोनों ने अब एक दूसरे से डिवोर्स लेने का फैसला कर लिया था। हम दोनों अपने परिवार से अलग मुंबई में रहते हैं काजल को इस बात से कोई एतराज नहीं था और जल्द ही काजल ने मुझे डिवोर्स दे दिया। हम दोनों एक दूसरे से अलग रहने लगे थे डिवोर्स हो जाने के बाद भी हम दोनों एक दूसरे को मिलते रहते थे।

मैं अपने काम के चलते कुछ ज्यादा ही बिजी रहने लगा था इसलिए मुझे अपने लिए भी समय नहीं मिल पाता था। एक दिन मैं अपने दोस्तों के साथ सलून में गया हुआ था जब मैं सलून में गया तो वहां पर एक लड़की आई हुई थी जो कि वहां बैठी हुई थी मैं भी उसे देखे जा रहा था। मैंने उसे काफी देर तक देखा और उसके बाद मैं वहां से चला आया लेकिन मुझे क्या पता था कि कुछ दिनों बाद मेरी उससे मुलाकात दोबारा से हो जाएगी। हम दोनों की मुलाकात दोबारा से हुई जब हम दोनों एक दूसरे को मिले तो उसने मुझे देखते ही पहचान लिया और कहा कि तुम वही हो ना जो उस दिन मुझे सैलून में मिले थे मैंने उसे कहा हां। मैंने हाथ मिलाते हुए उसे कहा मेरा नाम संजय है तो उसने भी मुझे कहा मेरा नाम पायल है। मैंने उससे उसके बारे में पूछा तो उसने मुझे बताया कि वह कुछ समय पहले ही मुंबई आई है।

पायल और मेरी ज्यादा देर तक उस दिन बात नहीं हुई लेकिन उसके बाद से हम दोनों एक दूसरे से बातें करने लगे मुझे पायल के साथ बात करना अच्छा लगता है और मैं जब भी पायल से बात करता तो उसे भी बहुत अच्छा लगता। एक दिन पायल और मैं साथ में बैठे हुए थे हम दोनों एक दूसरे को डेट करने लगे थे मैंने पायल को अभी तक अपने डिवोर्स के बारे में नहीं बताया था लेकिन मैं चाहता था कि जल्द ही मैं पायल को इस बारे में बता दूँ। मेरे अंदर शायद हिम्मत नहीं थी या फिर मुझे यह डर था कि कहीं मैंने पायल को इस बारे में बताया तो वह मुझे छोड़कर ना चली जाए क्योंकि काजल के मेरी जिंदगी से चले जाने के बाद मैं बहुत अकेला हो गया था और मुझे लग रहा था कि मुझे किसी की जरूरत है। मैं और पायल एक दूसरे से बात कर रहे थे लेकिन उस दिन को कुछ बताने की मेरी हिम्मत ही नहीं हुई परन्तु जल्द ही मैंने पायल को अपनी शादी के बारे में बता दिया। जब मैंने उसे बताया कि मेरी शादी हो चुकी है और कुछ समय पहले ही मेरा डिवोर्स हुआ है तो उस दिन पायल को मुझ पर शायद बहुत ही गुस्सा आ रहा था उसने मुझे कहा कि मुझे तुमसे बात नहीं करनी। वह उस दिन गुस्से में चली गई उसने मेरा फोन भी नहीं उठाया मैं उसे फोन करता रहा लेकिन उसने मेरा फोन नहीं उठाया मैंने पायल को उसके बाद कई मैसेजेस भी किये लेकिन उसने मुझसे बात नहीं की। मुझे जिस चीज का डर था आखिर वही हुआ पहले मैं पायल को कुछ बताना नही चाहता था लेकिन जब मैंने पायल को इस बारे में बताया तो पायल मुझे छोड़ कर चली गई और उससे काफी समय तक मेरा कोई संपर्क नहीं रहा। जब मैंने उसे एक दिन फोन किया तो उसने मेरा फोन उठा लिया और कहने लगी कि संजय मुझे अब तुमसे बात ही नहीं करनी है तुमने मुझे धोखे में रखा और तुमने मुझसे झूठ कहा। मैंने पायल को कहा कि पायल तुम मुझसे एक बार मिल तो लो मैं तुम्हें मिलकर सारी बात बताता हूं। उस दिन मैंने पायल को मिलने के लिए बुलाया मैंने यह बात काजल को भी बता दी थी काजल को इस बात से कोई आपत्ति नहीं थी क्योंकि काजल अब मुझसे डिवोर्स लेकर अपनी जिंदगी अच्छे से बिता रही थी। मैंने पायल को जब काजल से मिलवाया तो काजल ने उस दिन पायल से बात की काजल ने उसे पूरी बात बताई और कहा कि हम दोनों ने शादी तो जरूर की लेकिन उसके बाद हम दोनों को लगने लगा कि हम दोनों एक दूसरे के साथ खुश नहीं रह सकते इसलिए हम दोनों ने डिवोर्स ले लिया।

पायल को काजल ने समझा दिया था जिसके बाद हम दोनों का रिश्ता बढ़ने लगा और पायल और मैं एक दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने लगे। हम दोनों एक दूसरे के साथ जब भी समय बिताते तो हम दोनों को अच्छा लगता मैं पायल के साथ बहुत ही खुश था और मैं पायल के साथ अपनी जिंदगी अच्छे से जी रहा था। हम लोग ज्यादातर समय साथ में बिताते और अक्सर एक दूसरे के साथ घूमने के लिए भी जाया करते मेरे पास जब भी समय होता तो मैं पायल के साथ समय बिताता। कुछ दिनों के लिए मैं अपने ऑफिस टूर से हैदराबाद जाने वाला था और वहां पर मैं दो-चार दिन रुकने वाला था मैं अपने ऑफिस से हैदराबाद गया और वहां से कुछ दिन बाद वापस लौटा तो मैं चाहता था कि मैं पायल से मिलूं। मैंने पायल को फोन किया और उससे कहा कि मुझे तुमसे मिलना है वह कहने लगी ठीक है मैं तुमसे मिलती हूँ लेकिन अभी मैं ऑफिस में हूं।

जब पायल ऑफिस से फ्री हुई तो वह मुझे मिलने के लिए घर आई। इतने दिनों बाद पायल को मिलकर मुझे अच्छा लगा मैंने उसे गले लगा लिया और मुझे ऐसा महसूस होने लगा जैसे मैं बस मै उसे गले लगा कर रखूं मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था मै उसके होठों को चूमने लगा था। हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे तो उसे बहुत ही अच्छा लग रहा था वह मुझे कहने लगी संजय मुझे आज तुमने पूरी तरीके से तड़पा कर रख दिया है। मैंने उससे कहा पायल में बिल्कुल भी अपने आपको रोक नहीं पा रहा हूं मुझे लग रहा है मेरे अंदर की गर्मी बढ़ने लगी है मैंने उसे कहा मैं बिल्कुल भी रह नहीं पाऊंगा। वह कहने लगी मुझे भी ऐसा ही कुछ लग रहा है। हम दोनों के अंदर की गर्मी पूरी तरीके से बढ़ चुकी थी मैंने उसे अपने साथ कमरे मे चलने के लिए कहा तो वह तैयार हो गई। जब हम दोनों बेड पर लेटे हुए थे तो उसका बदन मेरी बाहों में था मैं उसके बदन को सहला रहा था मुझे उसके बदन को सहलाने में बड़ा अच्छा लगता और वह भी बहुत ही ज्यादा खुश होने लगी थी उसने मुझे कहा मुझे बहुत अच्छा लग रहा है मैं उसके बदन को अच्छे तरीके से महसूस कर रहा था वह मुझे कहने लगी मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। मैंने उसकी गर्मी को बढ़ा दिया था पायल के बदन कि गर्मी अब इस कदर बढ़ चुकी थी कि वह मुझसे अपनी चूत मरवाने के लिए तैयार थी वह बहुत ज्यादा तड़पने लगी थी मैंने उसे कहा मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है हम दोनों बिल्कुल भी रह नहीं पा रहे थे। मैंने उसके पैरों को खोल दिया और उसके कपड़ों को उतारा तो मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया वह गर्म हो चुकी थी वह चाहती थी कि हम दोनों 69 में एक दूसरे के साथ मजे करें और हम दोनों 69 पोज मे एक दूसरे के बदन की गर्मी को बढ़ा रहे थे। मैंने अपने लंड को पायल के मुंह में डाल दिया था और उसकी चूत को मुझे चाटने में अब मजा आ रहा था उसकी चूत से बहुत ही ज्यादा गर्म पानी बाहर निकल रहा था वह मेरी गर्मी को बहुत अधिक बढ़ा रही थी।

मैंने पायल की चूत को चाट कर पूरी तरीके से गिला कर दिया जब मैंने उसके दोनों पैरों को खोलकर उसकी चूत में लंड को हटाया तो वह कहने लगी लंड को अंदर डाल लो मैंने अपने लंड को उसकी चूत के अंदर डाल दिया मैंने जैसे ही उसकी चूत के अंदर अपने लंड को घुसाया तो मुझे बहुत ही अच्छा लगा। अब मैं उसे बड़ी तेज गति से धक्का देने लगा मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था और उसे भी आनंद आने लगा था मेरे अंदर की गर्मी पूरी तरीके से बढने लगी थी वह मुझे कहने लगी मुझे और भी तेजी से चोदो। मैंने उसके दोनों पैरों को खोल लिया था और मैंने उसको बड़ी ही तेज गति से धक्के दिए मैं उसका बहुत तेज गति से धक्के मार रहा था और मेरे अंदर की गर्मी कहीं ना कहीं बढ़ती जा रही थी। हम दोनों पूरी तरीके से उत्तेजित हो चुके थे मेरा लंड पूरी तरीके से छिल चुका था और मुझे एहसास होने लगा था कि मैं बिल्कुल भी रह नहीं पाऊंगा।

वह मुझे कहने लगे मुझे भी ऐसा ही कुछ लग रहा है अब हम दोनों पूरी तरीके से गरम हो चुके थे जब मैंने अपने माल को पायल की चूत मे डाला तो मैने उसकी इच्छा को पूरा कर दिया। वह मुझे कहने लगी आज तो तुमने मेरे अंदर कि गर्मी को पूरा बढ़ा लिया है। मैंने दोबारा उसकी चूत के मजे लिए दोबारा से मैंने उसको बड़े अच्छे तरीके से चोदा और उसकी गर्मी को पूरी तरीके से बढ़ाकर रख दिया मेरे अंदर कि गर्मी अब बढ चुकी थी मैने उसको 5 मिनट तक अच्छे से चोदा और उसके बाद उसकी चूत के अंदर अपने माल को गिरा दिया। मेरे अंदर की गर्मी पूरी तरीके से बढ़ चुकी थी मुझे बहुत ही मजा आया जिस प्रकार से मैंने उसे चोदा और उसकी गर्मी को बढ़ाया हम दोनो ने अब शादी करने का मन बना लिया है और जल्द ही हम दोनों शादी करन वाले है।