मेरी चाची

desi sex kahani, kamukta दोस्तों ये कहानी मेरी और मेरी चाची की हे मेरा नाम अंकित हे और में हिमाचल प्रदेश में रहता हूँ. में २३ साल का हूँ. और तरफ मेरी चाची का नाम सरोज हे. उनकी उम्र ४३ साल हे उनका फेर कम्प्लेक्सान हे. उनके बूब्स छोटे हे और गांड बड़ी. और काफी सेक्सी लगती हे. और उनको चोदने से पहले में उनके नाम की मुठ मारा करता था तो अब कहानी पे आता हूँ.
एक साल पेहले जब में दादी के घर गया था होलीडे के लिए टब ही मेने चाची को चोदा था. दादी के घर में चाचा चाची और उनका एक बेटा भी हे. और सारे मुझसे बड़ा प्यार करते हे. जब मेने चाची को देखा तो मेरा लंड खड़ा हो गया और मेने बाथरूम में जाके उनके नाम की मुठ मारी और में काफी टाइम सेउनको चोदना चाहता था.
इस बार मेने सोचा की चाची को चोद के जाऊँगा. गरमी के दिन थे रात को चाची डिनर बना रहे थे. और उन्होंने नाइटी पहनी थी ब्रा और पेंटी नहीं डाली थी. जब वो दादी को खाना परोसने निचे जुकी तो उनके बूब्स और चूत को देख के मेरा ९ इंच लम्बोर ५ इंच मोटा लंड तन गया.

मेने बोक्सर डाला था और लंड खड़ा हो गया तो दिखने लगा. तो मेने जल्दी से बाथरूम में जाके मुठ मारी. और लंड को शांत किया उस दिन मेने चाची को चोदने का सोच लिया और रात को जब सारे सोने लगे तो में चाची की बगल में सो गया और आधी रात को मुह पे गरम सासे महसूस हुई. मेने देखा चाची मेरी तरफ मुह करके सो रही थी जो देख कर मेरा दिमाग हिल गा और मेने चाची के बूब्स और चूत को टच किया. और फिर अपना लंड चाची की चूत से रगड ने लगा. तभी चाची को थोड़ी होस आई और उन्होंने करवट ले ली. में भी डर के सो गया. अगली सुबह में चाची को छोड़ने का प्लान बनाने लगा.

loading...

और फर मेरे दिमाग में एक आइडिया आया मेने बाथरूम में फोन की सिम निकाल के केमेरा लगा दिया और फिर चाची नहाने चली गयी. और में शॉप पे कंडोम लेने और शेलाजित भी लाने के लिए और जब वापिस आया तो चाची नाहा चुकी थी और बक्की बेटा स्कूल चाचा ऑफिस चले गये थे.

अब उन दोनों को शाम को आना था. और काफी बुद्धू हे उनको पता नही चलता मेरे पास मोका अच्छा था में फोन उठाया तो उसमे उनकी विडिओ रिकॉर्ड हो गयी थी. फिर मेने चाची को ब्लेकमेल करने का सोचा. और किचन में गया चाची लंच की तैयारी कर रही थी. और उनकी गांड मस्त लग रही थी. विडिओ दिखाया तो उनका रंग उड़ गया. और वो जोर डालने लगी मेने बोला में आपको चोदना चाहता हूँ. आप मुझे बड़ी अच्छी लगती हे. और मेने आप के नाम की बहोत मुठ मारी हे. पर चाची ने मन कर दिया फिर में में बोला अगर आप नही मानी तो में आप को बदनाम कर दूंगा सब को दिखा दूंगा विडिओ तो फिर आप का क्या होगा आप की इज्ज़त का क्या होगा चाची भी सहोद देगे और रोते हुए बोली कर लो जो करना हे तो मेने शेला जित की दो टेबलेट खली और फिर में बोला की आपको लास बनके नही रहना आप को भी करना हे मेरे को कुछ नही आता में बोला जो चाचा के साथ करती हो वही करना हे वो बोली उन्हें छोड़े हुए काफी साल बित गये.

फिर मेने एक बफ दी जीससे वो गरम हो जाए और कुछ सीखे में पास जाके लिप्स चूमने लगा और वो भी पूरा करत कर रही थी. १० मिनट तक चूमने के बाद फिर मेने उनकी कमीज उतार दी लाल ब्रा डाली हुई  थी.बूब्स बड़े छोटे थे बूब्स ना होने के कारन में दबा नही पा रहा था फिर मेने ब्रा उतार दी और उनके निपल काफी बड़े थे उनको में जंगली की तरह चूसने लगा.जेसे कल आने नही हो और चाची के मुह से सिसकिया निकलने लगी. काफी देर तक चूसने के बाद मेने उनकी सलवार का नादा खोल दिया और उन्होंने स्किन कलर की पेंटी पहनी थी. और उनकी गांड काफी बड़ी थी तो फिर मेने अपना लेड भी उतार दिया. और अंडरवियर में अब था और मेरा पपू चूत में जाने के लिए तदप रहा था. और चाची ने मुझे पूरा नंगा कर दिया और मेरे लंड को देख के उनकी आँखे बड़ी हो गयी. और मेरे लंड को वो मलने लगी और में पेंटी के उपर से ही उनकी चूत मसल ने लगा.और उनकी पेंटी गीली हो चुकी थी.तो मेने उनकी पेंटी उतार दी और चूत को चाटने लगा और काफी ना चोदने के कारन उनकी चूत सिल लग रही थी. ३० मिनट चाटने के कारन उनका पानी २ बार झड चूका था. और उनके मुह से आह्ह्ह अह्ह्ह्ह आह्ह्ह उफफ्फ्फ्फ़ बस करो अब तुम खा ही डालोगे क्या…? बोल रही थी पर मेरा छोड़ ने का मन नही था. तो फिर मेने अपना लंड उनके मुह में दे दिया. और चुस्वाने लगा और उपर ९इन्च का लंड गले तक उतार दिया. इससे उनको खासी भी हो गयी और फिर मेने उनको सेफ पे बिठाया और टांगे खोली और उनकी चूत पे काफी बाल थे चाटने के कारन चूत काफी लाल हो गयी थी. मानो लग रहा हो अभी खून निकल आएगा. और फिर मेने चूत पे लंड रख्खा और धक्का मारने लगा चूत काफी टाइट थी तो जा नही पा रहा था तो फिर मेने जोर से झटका मारा और चाची चिल्लाई और आंसू भी निकल आये मेरा लंड २इन्च ही अंदर गया और चाची तडप रही थी. और बहार निकाल ने को बोल रही थी. तो फिर मेने उनके होटो को अपने होटो में लिया २-३ धक्के करे और लंड अंदर चला गया.

पर अभी थोडा बहार था और चची की आँखे बड़ी हो गई आई आई की आवजे निकली तो तो मेने उनकी कमर पकड़ी और एक जोरदार धक्का मारा और पूरा लंड अंदर कर दिया और चची जोर से चिल्लाई और रोने लगी और बहार निकालने को बोलने लगी पर मेने एक ना सुनी क्यू की मेरा इतना पुराना सपना पूरा जो हो रहा था चची को चोदने का तो फिर में जोर जोर से लंड अंदर बहार करने लगा. और चाची के निपल्स भी चूस रहा था. और चाची को बड़ा पेन हो रहा था साफ़ दिख रहा था और चूत में से हल्का सा खून भी निकल गया करीबन १.३० घंटा और बिच वो ३ बार अपना झड चिकि थी और मेरा भी झड़ने वाला था और फिर मेने जोर जोर से झटके मरना सुरु कर दिया और चाची के मुह से आःह्ह्ह आःह्ह आःह्ह ऊउफ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़ मर गयी बस लारो बेटा अब जणू बस कर ना अब और फिर में जोर जोर के झटके मरे और फच फच की आवाज़े आ रही थी चाची के मुह से अभी सिसकिय निकल रही थी जोर से चोद अपनी जान को १२ साल की भूकी हे जे चूत अच्छा ठोक ठोक वो पूरी गर्म हो चुकी थी.

और एस बिच मेरा भी झड गया उनकी चूत में और फिर में उनके बूब्स चूसने लगा उनके उपर लेट गया और १५ मिनट बाद मेने अपना लंड बहार निकाल और उनकी चूत फाट चुकी थी और थोडा खून भी था तो फिर मेने अपना लंड उनके मुह में डाला चूसते चूसते लंड फिर से खड़ा हो गया मेरा और फिर मेने चुदाई की तैयारी कार ली. अब में गांड मरना चाहता था. तो मेने चाची को बोला घोड़ी बन जा डार्लिंग वो मन करने लगी बोली में काफी थक गई हूँ. अब बस करो पर में नही मन मेने उन्हें घोड़ी बनाया और उस होल को लिक करने लगा होल बड़ा छोटा था और फिर सरसों का तेल उनकी गांड पर और मेरे लंड पर लगाया लंड को छेड़ में डालने लगा और एक ही झटके में ५ इंच डाल दिया तो वो फडफडा ने लगी. आह्हाह्ह्हा आह्ह्हाह्ह्हाह्ह करने लगी तो मेने उनका मुह बंद किया और दुसरे धक्के में पूरा लंड डाल दिया तो वो रोने लगी जान बस करदो रात को कर लेना अब में बोल लास्ट बस उठने लगी तो मेने उनकी बॉडी को थप्पड़ मारा और उनकी बॉडी लाल कर दी.

एक घंटा गांड मारने के बाद में थोडा थक गया और पसीना पसीना हो गया और चाची की गांड में झड गया. फिर चाची को सीधा किया और फिर उनकी चूत में लंड डाला थोडा उधर बहार किया और हम दोनों के एक दुसरे पे सो गये. और एक घंटे के बाद नींद खुली तभी भाई के आने का टाइम हो गया था.. उठो अब नहाने चलते हे. बेटा आने व्वाला हे जल्दी करो तो मेने चूत मे से लंड निकाला और हम दोनों नहाने चले गये और नहाते नहाते मेरा लंड फिर तन गया. और शावर में फिर चाची की चूत को पेल दिया और ४५ मिनट बाद उनकी चूत में झड़ गया और चची की हालत बुरी हो चुकी थी वो ठीक से चल भी नही पा रही थी. फिर उसी रात को चाची को फिर पाला और आज तक पेल रहा हूँ. इस बिच वो प्रेगनंट हुई एक बच्चे को जनम दिया जो की मेरा हे.