दोस्त की बहन को चोदकर बदला लिया

हैल्लो दोस्तों, में लगभग 2 साल से इस साईट पर कहानी पढ़ रहा हूँ और मजे भी करता हूँ. दोस्तों ये कहानी मेरे और मेरे दोस्त और उसकी बहन के बीच में हुई चुदाई की है. मेरा नाम अरमान है और में पंजाब में लुधियाना का रहने वाला हूँ और मेरी हाईट 6 फुट है, कलर गोरा है. में लुधियाना के एक कॉलेज में पढ़ता हूँ.

मेरा दोस्त राज भी मेरे साथ ही पढ़ता है और हम बचपन के दोस्त है तो इसके कारण हमारा एक दूसरे के घर में आना जाना और साथ में ही पढाई करना तो नॉर्मल बात है. एक दिन में और राज उसके घर पर पढ़ते-पढ़ते सो गये तो मेरी आँख रात के 1 बजे खुली तो मुझे लगा कि कोई गेट के पास खड़ा है. में उठकर देखने लगा तो बाहर कोई नहीं था, लेकिन राज की बहन निशा के रूम का दरवाजा खुला था. दोस्तों निशा की उम्र 20 साल है, फिगर साईज 30-28-30 है, रंग एकदम दूध जैसा, गांड एकदम मस्त, वो नामर्द को भी मर्द बना दे. में तो पहले से ही मर्द था और दिल तो करता था कि घोड़ी बनाकर गांड मार दूँ, लेकिन में दोस्त को धोखा नहीं देना चाहता था. खैर अब में कहानी पर आता हूँ. निशा के रूम का दरवाज खुला हुआ था.

मैंने देखा कि निशा अपने बेड पर नहीं थी. में रूम में जाकर देखने लगा तो में जब रूम में अन्दर गया तो अचनाक से दरवाजा बंद हो गया. फिर निशा ने मुझे पकड़कर बेड पर पटक दिया और वो मेरे ऊपर आकर लेट गई. फिर मैंने कहा कि निशा ये क्या कर रही हो? तो उसने कहा कि प्यार जो में तुम्हें अपनी जान से भी ज्यादा करती हूँ. फिर मैंने कहा कि तुम मेरे दोस्त की बहन हो और मेरे पहले से ही एक गर्लफ्रेंड है. फिर निशा ने कहा कि तो फिर ठीक है और आज से तुम्हारे 2 गर्लफ्रेंड है. फिर मैंने कहा कि में ये नहीं कर सकता. फिर निशा ने कहा कि मुझे पता था कि तुम ऐसे नहीं मानोंगे. फिर निशा ने मेरी पेंट के ऊपर से ही मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और मेरे हाथ पकड़कर अपने बूब्स पर रख दिए और वो मुझे लिप किस करने की कोशिश करने लगी. फिर मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया और निशा को धक्का मारकर साईड में कर दिया और उठकर चला गया. उस दिन के बाद में कुछ दिन तक राज के घर नहीं गया.

फिर मैंने राज को कुछ नहीं बताया था और अब हम नॉर्मल थे. फिर एक दिन राज का फोन आया तो उसने कहा कि कल कॉलेज मत जाना हम मूवी देखने चलेगे और में 10 बजे तुम्हें लेने आ जाउंगा. फिर मैंने कहा ठीक है, लेकिन अगले दिन राज नहीं आया और उसका फोन भी ऑफ था. फिर मैंने सोचा कि कोई प्रोब्लम आ गई होगी. फिर शाम को मेरी गर्लफ्रेंड का फोन आया जो मेरे और राज के साथ पढ़ती है तो वो रो रही थी. फिर मैंने पूछा क्या हुआ पूजा?

उसने बताया कि आज राज ने कॉलेज में जब में क्लासरूम में अकेली थी तो उसने मुझे प्यार का इजहार किया तो मैंने ना कह दिया तो उसने मेरे साथ ज़बरदस्ती करने की कोशिश की और में मुश्किल से अपनी जान बचाकर वहां से भाग पाई हूँ. फिर मैंने पूजा को समझाकर शांत किया और कहा कि तुम किसी से कुछ मत कहना और में तुम्हारा बदला लूँगा, लेकिन तुम कॉलेज में नॉर्मल रहना और राज को भी पता नहीं चलना चाहिए कि मुझे सब पता है. फिर पूजा ने कहा कि ठीक है, लेकिन उस राज को छोड़ना मत और मैंने कहा कि ठीक है. अब में सारी रात सोच था रहा था कि राज को पता था कि में पूजा से प्यार करता हूँ और हमारी शादी भी होने वाली है. फिर भी उसने ये ग़लत काम किया और मुझे राज पर बहुत गुस्सा आ रहा था. फिर मैंने सोच लिया था कि अब में राज से बदला जरुर लूँगा.

अब में अगले दिन सुबह राज के घर गया तो उसकी माँ ने दरवाजा खोला. आंटी स्कूल में टीचर है तो जब आंटी स्कूल जा रही थी और राज के पापा टूर पर ही रहते है और राज सो रहा था. निशा नाश्ता कर रही थी तो में सीधा अन्दर गया तो निशा मुझे देखकर खुश हो गई और मैंने भी स्माईल कर दी और आँख मार दी. फिर मैंने निशा को इशारा किया कि वो अपने रूम में आ जाए तो फिर निशा नाश्ता छोड़कर मेरे पीछे-पीछे रूम में आ गई. फिर जब निशा रूम में आई तो मैंने उसे बेड पर पटक दिया और में उसके ऊपर लेट गया. फिर मैंने निशा से कहा कि आई लव यू निशा मैंने तुम्हारे लिए अपनी गर्लफ्रेंड से ब्रेक-अप कर लिया है और अब में सिर्फ तुम्हारा हूँ और में सारी उम्र तुम्हारा ही रहूँगा.

फिर निशा ने कहा कि सच आज में बहुत खुश हूँ आई लव यू टू जानू, आज तुमने मुझे मेरी लाईफ का सबसे बड़ा गिफ्ट दिया है. फिर मैंने कहा कि अब तुम मुझे क्या गिफ्ट दोगी? तो उसने कहा कि जो तुम कहो. फिर मैंने कहा कि मेरी कसम खा जो में कहूँगा, वो ही तुम दोगी तो उसने मेरी कसम खा ली. फिर मैंने उससे कहा कि अब मुझे शादी से पहले हनीमून मनाना है. फिर मैंने कहा कि यहाँ नहीं मेरे घर पर, अब तो वो हमारा घर हो गया है. फिर निशा खुश हो गई और फिर उसने कहा कि में भाई के जाने के बाद आ जाउंगी. फिर मैंने कहा कि ऐसे नहीं 7 दिन के लिए मेरे घर पर ही रुकना पड़ेगा तो फिर निशा ने कहा कि ये नहीं हो सकता तो अब में गुस्सा होने का नाटक करने लगा.

फिर उसने कहा कि ठीक है बाबा, तुम मुझे 2 दिन दो, में कोई भी बहाना बना लूंगी तो अब में खुश हो गया और उसे किस करने लगा और में उसके बूब्स दबाने लगा. फिर निशा ने कहा कि जानू दो दिन इंतजार करो भाई घर पर है. फिर जो करना है कर लेना. निशा घर का काम करने लगी और में राज के रूम में राज को उठाने चला गया और में राज के साथ ऐसे बात कर रहा था जैसे मुझे कुछ पता ही नहीं हो और अब राज को भी लगा कि पूजा ने मुझे कुछ नहीं कहा है. अब वो भी नॉर्मल हो गया. फिर शाम को निशा ने घर पर माँ से बात कर ली कि वो अपनी फ्रेंड्स के साथ 7 दिन के लिए टूर पर जाना चाहती है तो उसकी माँ मान गई. फिर अगले दिन निशा ने पैकिंग कर ली और अपनी फ्रेंड से बात कर ली कि वो माँ को झूठ बोल दे. फिर मैंने भी सारी तैयारी कर ली थी. फिर अगले दिन निशा मेरे घर आई तो उसने सफ़ेद टॉप और काली जीन्स पहन रखी थी, जिसमें उसका फिगर कमाल का लग रहा था.

फिर मैंने उसे अन्दर बुलाया और कोल्ड ड्रिंक दी, अब हम बातें करने लगे और फिर हमने लंच किया. फिर में निशा को बेडरूम में ले गया और हम लिप किस करने लगे और अब वो भी मेरा साथ दे रही थी. फिर 15 मिनट की किस के बाद में उसके बूब्स पर अपना हाथ ले गया और ज़ोर-ज़ोर से मसलने लगा तो अब वो गर्म होने लगी थी. फिर मैंने उसका टॉप निकाल दिया, उसने अन्दर वाईट कलर की ब्रा पहन रखी थी तो मेरे मुँह में पानी आ गया और अब में उसकी ब्रा के ऊपर से ही बूब्स को मुँह में लेने लगा और वो मेरी पेंट के ऊपर से ही मेरा लंड पकड़कर मसलने लगी थी. फिर मैंने उसकी ब्रा निकाल दी और बूब्स मुँह में लेकर पीने लगा और निप्पल काटने लगा. में अपने एक हाथ से उसकी पेंट के ऊपर से चूत मसलने लगा तो वो आवाजे निकालने लगी थी, आआआआआआआआआआआ ज़ाआाआआनुऊु आाआआआआआआआअ और फिर मैंने उसकी पेंट को निकाल दिया.

फिर उसने मेरी शर्ट और पेंट निकाल दी और हम दोनों बेड पर अंडरवियर में थे. हम दोनों एक दूसरे के ऊपर टूट पड़े, कभी वो मेरे ऊपर आकर किस करने लगती तो कभी में उसे किस करने लगता. फिर मैंने उसकी पेंटी निकाल दी और वो नीचे बिल्कुल क्लीन शेव चूत थी. में देखने लगा तो उसने अपना चेहरा हाथ से ढक लिया और शर्म के मारे उसका रंग लाल हो चुका था. अब में उसे लिप किस करने लगा और वो मेरा लंड बाहर निकाल चुकी थी और उसे हाथ में लेकर हिलाने लगी. फिर मैंने उठकर अपनी अंडरवियर निकाल दी और में उसकी पूरी बॉडी पर किस करने लगा. जब में उसकी चूत के पास गया तो उसने मेरा सर पकड़ लिया. फिर मैंने जब उसकी चूत पर अपनी जीभ रखी तो वो तड़पने लगी और आवाजे करने लगी और में अपनी जीभ को अन्दर बाहर करने लगा तो वो कहने लगी आआआअ ज़ाआाआआनुउऊुउउ इतने में ही उसकी चूत ने गर्म पानी छोड़ दिया और अब उसका शरीर अकड़ गया था.

फिर में उठा और उसे बाल से पकड़कर बैठा दिया और में बेड पर खड़ा हो गया और फिर मैंने उसके बालों को पकड़कर ज़बरदस्ती अपना लंड उसके मुँह में दे दिया, वो पहले-पहले तो लंड को निकालने की कोशिश करने लगी, लेकिन कुछ टाईम के बाद उसे भी मज़ा आने लगा. वो मेरे लंड को लॉलीपोप की तरह चूस रही थी, वो कभी मुँह में लेती तो कभी बॉल्स मुँह में लेती. फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसकी टाँगे खोल दी और फिंगरिंग करने लगा. वो फिर से आवाजे निकालने लगी आआआआअहह आआआअहह, अब उसकी चूत पूरी गीली हो चुकी थी. फिर में उसकी चूत पर अपना लंड रखकर दबाने लगा और वो कुंवारी होने के कारण अंदर नहीं जा रहा था, क्योंकि उसकी चूत बहुत टाईट थी. फिर मैंने एक ज़ोर का झटका मारा तो मेरा लंड उसकी चूत को फाड़ता हुआ 3 इंच अन्दर चला गया. अब वो बहुत ज़ोर से चीखी तो मैंने अपने होंठ उसके होठों पर रख दिए और बूब्स दबाने करने लगा.

फिर जब वो शांत हुई तो मैंने दूसरा जोर का झटका मारा और मेरा लंड सील तोड़ता हुआ पूरा अन्दर चला गया. मुझे अपने लंड पर गर्म-गर्म खून महसूस हो रहा था और वो चीख रही थी, प्लीज इसे निकालो, में मर गई. फिर में उसकी गर्दन पर किस करने लगा और बूब्स मुँह में लेकर चूसने लगा. फिर जब वो ठीक हुई तो में उसे चोदने लगा और अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था, वो कह रही थी ऊऊऊओह यययययईईईईस्स्स्स्स्सस्स जाआआऊऊउउ फक मी और तेज़ फास्ट फास्ट. में अपनी पूरी स्पीड से उसे चोदने में लग गया था और वो कह रही थी कि लव यू जानू आपको चोदना किसने सिखाया? फक मी बेबी आआआआआआआआहह करती रही. 25 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना गर्म पानी उसकी चूत में ही छोड़ दिया और उसके ऊपर ही लेट गया और वो मुझे पागलों की तरह किस कर रही थी.

फिर 20 मिनट के ब्रेक के बाद में फिर से तैयार था, लेकिन अब में उसकी गांड मारना चाहता था तो मैंने उससे कहा तो वो साफ मना करने लगी तो मैंने प्यार के नाम पर उसे मना ही लिया. फिर मैंने उसे बेड पर घोड़ी बना दिया और तेल की बोतल उसकी गांड में उल्टी कर दी और उसकी गांड के छेद पर अपनी उंगली से अन्दर तक लगा दिया और कुछ तेल लंड पर भी लगा दिया. फिर मैंने अपना लंड उसकी गांड पर सेट कर दिया और एक जोर का झटका मारा तो अब मेरा लंड पूरा अन्दर जा चुका था और वो चीख रही थी, में मर गई निकालो इसे, में जोर-जोर से झटके मारने लगा और बूब्स दबाने लगा. अब उसे भी मज़ा आने लगा था और वो भी अपनी गांड हिला-हिलाकर चुदवा रही थी और में उसे जोर से पकड़कर अपनी पूरी स्पीड से चोदने में लग गया और साथ में उसकी गांड पर हाथ से मार भी रहा था, 30 मिनट के बाद में उसकी गांड में ही झड़ गया.

फिर में अपना लंड उसकी गांड के बीच में रखकर ही सो गया और इन 6 दिनों में मैंने उसकी गांड चूत बहुत मारी और अब बदला लेने की बारी थी तो छठे दिन मैंने निशा से कहा कि जानू में तुम्हें लाईट ऑफ करके चोदना चाहता हूँ और साथ में हम दोनों एक दूसरे से कोई बात नहीं करेंगे, कसम खा कुछ भी हो जाए तो तुम मुँह से ऊफ तक नहीं कहोगी. फिर उसने कसम खा ली. फिर मैंने राज को फोन कर दिया और उसे बोला कि मेरे घर आ जा एक लड़की है मिलकर चोदते है.

फिर उसने कहा कि में 5 मिनट में आता हूँ, तब तक मैंने चैक करने के लिए कि निशा कोई गड़बड़ ना कर दे तो में लाईट ऑफ करके उसे चोदने लगा. फिर वो कुछ नहीं बोली तो मैंने उससे कहा कि बहुत मज़ा आया एक बार और करे. फिर उसने कहा ठीक है और फिर मैंने कहा कि याद रखना कुछ नहीं बोलना है. फिर उसने कहा कि ठीक है में 5 मिनट में आता हूँ, में बाहर राज का इंतजार करने लगा. फिर राज आ गया तो मैंने उसे कहा कि मेरी नई गर्लफ्रेंड है और मैंने सब सेट कर दिया है, बस तुम कुछ मत बोलना जब तुम्हारा काम हो जायेगा, तब लाईट चालू करेंगे. फिर हम मिलकर करेगे तो उसने कहा कि ठीक है.

फिर में राज के साथ गया तो मैंने निशा से कहा कि में आ गया जानू कुछ मत बोलना. फिर राज सेक्स करने लगा. फिर मैंने उससे कहा था कि जब तेरा हो जाए तो खांसी से इशारा कर देना तो उसने इशारा कर दिया. फिर मैंने रूम में आकर लाईट चालू कर दी तो राज ने देखा और वो पागल हो गया, ये तो उसकी बहन थी. वो दोनों पागल हो गये और राज भागकर मेरे पास आया और मेरा गला पकड़ लिया और कहने लगा कि साले ये क्या किया तुमने? फिर मैंने उसके मुँह पर एक चांटा मारा तो वो नीचे गिर गया.

मैंने कहा कि साले तूने मेरी गर्लफ्रेंड के साथ ज़बरदस्ती करने की कोशिश की थी तो ये उसका बदला था. फिर वो वहीं पर रोने लगा और फिर मैंने निशा को समझाया कि जानू ये जरूरी था वर्ना ये हमें कभी एक नहीं होने देता, अब ये कुछ नहीं कर सकता है, ये मैंने हमारे लिए ही तो किया है. फिर निशा मान गई और मैंने एक बार और निशा को उसके सामने चोदा, अब जब भी मेरा दिल करता है तो में निशा से मिलने जाता हूँ और राज से कहता हूँ कि साले रखवाली कर में तेरी बहन को चोदने जा रहा हूँ.