कजिन की चुदाई

hindi sex stories

हेल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप लोग ? मेरा नाम दीपक है और मैं बिहार में रहता हूँ . आज मैं आप लोगों को उस घटना के बारे में बताऊंगा जब मैंने अपनी कजिन के साथ सेक्स किया और उसकी अन्तर्वासना शांत की .

मेरी कजिन जिसका नाम लीला है, दिल्ली में रहती है . वो गर्मियों की छुट्टी में गाँव आई थी . 3 साल बाद जब मैंने उसे देखा तो मेरा मन डोल गया . पहले तो लीला साधारण दिखती थी लेकिन अब क्या माल हो गयी है . सेक्सी बूब्स और मस्त गोल गांड.. चूत तो इमेजिन कर के ही मेरे लंड का हाल खराब हो गया . जिस तरीके से वो चल रही थी, शायद पुरे बिहार में उसके जैसे सेक्सी चल वाली न हो . मेरा मन पूरी तरह डोल चूका था . मैंने सोचा की इसको कैसे पटाऊ . 2 दिन तक उससे दोस्त जैसे बात की . फिर एक दिन मैं और वो बाइक राइड पर गए . वो मेरे पीछे बैठी थी . मैं जान बुझकर बार बार ब्रेक लगा रहा था ताकि उसके बूब्स मेरे से लडें . वो भी मेरा इशारा समझ गयी . बोली – बहन हूँ मैं तुम्हारी . मैंने कहा – कौन सी सगी हो यार, और तुम तो दिल्ली वाली हो, खुले विचारों वाली हो . फिर मैंने सीधा बोल दिया – आई लाइक यु . वो बोली – वैसे तो आई आल्सो लाइक यु लेकिन भाई हो तुम मेरे . मैंने कहा – अच्छा चलो एक काम करते हैं , कभी कभी सैयां बना लेना, बाकी टाइम भईया . वो हँस पड़ी . मैं समझ गया की उसकी हाँ है . अब मैं उसको एक सुनसान किले में ले गया और कोने में ले जाकर किस करना शुरू कर दिया . वो भी मेरा साथ देने लगी . मैंने उसकी गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया  तो वो आह हह ह उ ऊ उ उ ऊ म मम म म मम म मम म म मम म म म आह ह हह ह हह ह ह हह ह हह ह  करने लगी .

अब मैंने उसके सेक्सी दूध दबाना शुरू कर दिए अब मैंने उसके हॉट बूब्स को कपड़ों के ऊपर से मसलना शुरू कर दिया . वो फिर से आआ हह ह हह ह हह ह हह ह आराम से.. आह्ह्ह उ ऊ उ ऊ उ ऊ उ ऊ म म मम म मम म म ऊ उई ई इ ई इ इ इ इ इ ईई ई ई इ इ धीरे से.. आह्ह ह ह हह ह ह ह करके सिसकियाँ लेने लगी . मुझे मजा आने लगा . मैं उसके कपडे उतार नही सकता था क्यूंकि किसी के आने का खतरा था इसीलिए साइड कर दिए . अब मैं उसके निप्पल चूस रहा था और वो मस्ती में आ आआ हह ह ह हह ह हह ह ह हह ह ह हह ह हह ह हह ऊऊ उ उ ऊ उ ऊ उ ऊऊ  ई इ इ इ इ ई ई इ ई उम् मम म म मम्म म मम्म म मम म आराम से.. आह हह ह हह ह ह ऊ उ उ ऊ ऊऊ ऊ ईई ईई इ इ इ ई इ ई ई ओह्ह्ह्हह ह ह ह हह ह ह हह उई इ इ इ ई माँ.. आह्ह ह ह हह ह करने लगी . मुझे उसकी ऐसी दिलचस्प

सिसकियाँ सुन कर और जोश आ गया . मैंने सोचा की अब और देर करने का कोई मतलब नही है . मैंने झट से उसकी पैंट उतारी और उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत चुसनी शुरू कर दी . वो मेरा सर पकड़ कर जोर जोर से आह ह हह ह हह ह हह ह हू ऊ उ ऊ उ ऊ इ इ इ ई इ इ ई इ इ ई इ ई इ इ इ उम म म मम म म माह ह ह ह हह ह हह ह हह हह ओह्ह ह ह हह ह ह हह ह ह हह हह ह हह आराम से… आहाह हह ह ह हह ह ह हह ह हह ह ह ह्ह्ह ऊऊ हह ह हह ह ह हह हह ही ई इ ई ई ईई ई इ ई इ इ ईई ई इ ई ऊ ओ हह ह हह ह  मम म म मम म म म्मम्म मम म करने लगी . मैंने अब उसकी पैंटी भी निकाल दी और वो पूरी नंगी हो गयी .

मेरी कजिन की चूत कातिल थी . मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया . वो अब और जोर से आह हह ह ह हह ऊऊ उ ऊ उई इ ई ई इ इ ई इ ई ई इ ई इ इ उम मम म म मम म मम म म म मम म म म मम म मम म मम आह्ह ह ह हह ह हह ओह्ह ह ह हह ह ह हह हिस्स स स  स स स  स स  स ओ हह ह ह हह ह हह उम मम म उम हह ह हह ह हह ह ह करने लगी . लगभग 10 मिनट की चूत चटाई के बाद उसकी चूत ने माल छोड़ दिया .

हम दोनों एक तरह से खुले में ही चुदाई करने में लगे हुए थे  क्यूंकि वो एक सुनसान किला जरुर था लेकिन कोई दरवाजा नही था इसीलिए कोई भी आ जा सकता था . मैंने उसको लंड चूसने को बोला तो उसने मना कर दिया . मैंने भी ज्यादा फ़ोर्स नही किया क्यूंकि मुझे उसकी चूत चोदनी थी . मैंने उसको लिटा कर उसकी टांगे फैला दी और लंड को उसकी चूत पर रखकर मैंने एक हल्का सा धक्का दिया . लंड आधा घुस गया . वो रो पड़ी और जोर जोर से कहने लगी ऊऊ उ ऊ इ ई इ इ ई इ इ ई इ इ इ ई इ इ ई आह्ह ह ह ह हह ह ह ह ह हह ह ह हह ह छोड़ दो.. अहः हह ह ह ह ह हह ह ह हह ह हह आह हह ह ह ह हह ह ह ह ह इउ उ इ इ ई इ इ ई इ इ ई इ इ ई इ इ इ ई  मर गयी मैं … उई इ इ ई इ इ ई इ इ इ .

मुझे पता था की थोड़ी देर बाद उसे भी मजे आएगा . मैंने उसे और जोर से चोदना शुरू कर दिया . वो भी मजे से चुदवाने लगी और उम म म म मम म म मम म मम्म मो ह हह ह ह ह हह ह अहह ह ह हह ह ह हह ह ह ह हह ह ह  चोद दो मुझे.. चोदो.. आह्ह ह हह ह हह ह उ म मम म म म मम म मम ओ ह ह हह ह हह ह ह ह हह ह  अहह हह ह ह हह ह ह ह हह ह ह ह्ह्ह ह ह्ह्ह्हह ह हह हह ह ह ह ह्ह्ह ह करने लगी .

थोड़ी देर बाद हम दोनों झड गये .