Category «Desi Kahani»

चूत से निकलता हुआ पानी

Antarvasna, desi kahani: कॉलेज के कैंपस प्लेसमेंट में मेरा सिलेक्शन हो जाने के बाद मैं मुंबई की बड़ी कंपनी में जॉब करने लगा और मैं अपनी नौकरी से बहुत ज्यादा खुश हूं। मेरे ऊपर ही घर की सारी जिम्मेदारी है क्योंकि पापा की तबीयत ठीक नहीं रहती है। जब से पापा की तबीयत खराब हुई …

मैंने शुभी के होठों को चूम लिया

Antarvasna, sex stories in hindi: भैया और भाभी के घर पर हर रोज झगड़े होते रहते थे उन दोनों की शादी को अभी सिर्फ दो वर्ष ही हुआ था लेकिन उन लोगों के झगड़े की वजह से घर का माहौल बिल्कुल भी ठीक नहीं था और कई बार तो भाभी झगड़े में अपने मायके भी …

उसके गुलाबी होठों को चूमना

Antarvasna, kamukta: मेरा परिवार अब पुणे में शिफ्ट हो चुका था और मैं पुणे में ही नौकरी करने लगा था। जब हम लोग दिल्ली में रहा करते थे तो दिल्ली में मेरी मुलाकात कोमल से हुई थी वह हमारे पड़ोस में ही रहती थी लेकिन जब उससे मेरी बात होने लगी तो उसके बाद पापा …

जब मेरी अन्तर्वासना जाग उठी

Antarvasna, hindi sex story: मेरी जॉब लगे हुए अभी ज्यादा समय नहीं हुआ था लेकिन मैं अपनी नौकरी से काफी खुश था और मेरी जिंदगी में सब कुछ ठीक चल रहा था। मैं सुबह अपने ऑफिस के लिए तैयार हो रहा था उस वक्त 8:00 बज रहे थे। मां ने मुझे कहा कि सुमित बेटा …

लंड ने चूत को अपना लिया

Antarvasna, desi kahani: मेरे और राजेश भैया के बीच में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा था भैया पैसे के इतने ज्यादा लालची हो चुके थे कि वह पूरी तरीके से बदल चुके थे। जब से भैया की शादी हुई थी भैया और भाभी चाहते थे कि वह लोग अलग रहने के लिए चले जाएं …

जब प्यार परवान चढ़ा

Antarvasna, desi kahani: मेरी सगाई को अभी कुछ दिन ही हुए थे और हमारे ऑफिस में जब प्रतिभा आई तो हम दोनों की अच्छी दोस्ती होने लगी। कहीं ना कहीं मैं और प्रतिभा एक दूसरे के नजदीक आते चले गए मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि क्या यह सब ठीक है। मेरा …

सुहानी के साथ की सुहानी यादें

Antarvasna, hindi sex story: मैं कुछ दिनों पहले ही मुंबई से घर लौटा था और मैं कुछ समय तक घर पर ही था क्योंकि पापा और मम्मी चाहते थे की मैं अपने ऑफिस से कुछ दिनों की छुट्टी ले लूं। मैंने अपने ऑफिस से कुछ दिनों की छुट्टी लेली थी और फिर हम लोग फैमिली …

सेक्स करके बदन खिल ऊठा

Antarvasna, hindi sex kahani: मैं भैया के साथ उसके घर पर गया हुआ था और वहां पर हम दोनों करीब आधे घंटे तक रुके फिर हम दोनों घर लौट आए। भैया ने मुझे कहा कि सुरेश तुमने अपने फ्यूचर के बारे में कुछ सोचा भी है या नहीं मैंने भैया से कहा कि हां भैया …

चूत का मायाजाल

Antarvasna, hindi sex story: आज से 5 वर्ष पहले मैं दिल्ली आया और जब मैं दिल्ली आया तो उस वक्त मेरे भी आर्थिक स्थिति बिल्कुल भी ठीक नहीं थी लेकिन मैंने अपनी मेहनत के बलबूते एक गारमेंट शॉप खोली जो कि काफी अच्छी चलती है और इस बात से मैं बहुत खुश हूं। मेरे पापा …

बदन की गर्मी निकाल दी

Antarvasna, hindi sex kahani: मेरे और राधिका के बीच सब कुछ ठीक चल रहा था राधिका से मैं आज से 5 महीने पहले मिला था। जब उस से मेरी मुलाकात हुई तो पहली नजर में देखते ही मैं उसे अपना दिल दे बैठा था और उसने भी मुझसे अपने प्यार का इजहार कर दिया और …