23 साल की सीधी साधी हाऊस वाइफ-2

hindi sex stories, antarwasna

हेल्लो दोस्तों, मैं सूरज फिर से हाजिर हूँ कहानी का अगला भाग लेकर . दोस्तों, पिछले भाग में मैंने बताया की कैसे मैंने अपने चचेर भाई राजू की बीवी निशा को किस करना शुरू किया . अब आगे :

अब मैंने निशा का ब्लाउज खोल दिया . उसके बूब्स मेरे सामने थे . बूब्स बहुत बड़े तो नही थे लेकिन अच्छे थे . झट से मैंने ब्रा भी खोल दी और उसके निप्पल चूसने लगा . वो मस्ती में आ आआ हह ह ह हह ह हह ह ह हह ह ह हह ह हह ह हह ऊऊ उ उ ऊ उ ऊ उ ऊऊ  ई इ इ इ इ ई ई इ ई उम् मम म म मम्म म मम्म म मम म आराम से.. आह हह ह हह ह ह ऊ उ उ ऊ ऊऊ ऊ ईई ईई इ इ इ ई इ ई ई ओह्ह्ह्हह ह ह ह हह ह ह हह उई इ इ इ ई माँ.. आह्ह ह ह हह ह करने लगी . मुझे उसकी मादक सिसकियाँ सुन कर और जोश आ गया . मैंने उसके निप्पल को काट लिया तो उसके मुंह से उई ईई इ ई ई ईई ई इ ईई चीख निकाल पड़ी .

अब मैंने उसकी साड़ी उतारनी शुरू कर दी . उसके पेटीकोट को मैंने जब ऊपर किया तो उसकी गुलाबी पैंटी से मादक खुशबु आ रही थी . मुझसे रहा नही गया . मैंने पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत चुसनी शुरू कर दी . वो मेरा सर पकड़ कर जोर जोर से आह ह हह ह हह ह हह ह हू ऊ उ ऊ उ ऊ इ इ इ ई इ इ ई इ इ ई इ ई इ इ इ उम म म मम म म माह ह ह ह हह ह हह ह हह हह ओह्ह ह ह हह ह ह हह ह ह हह हह ह हह आराम से… आहाह हह ह ह हह ह ह हह ह हह ह ह ह्ह्ह ऊऊ हह ह हह ह ह हह हह ही ई इ ई ई ईई ई इ ई इ इ ईई ई इ ई ऊ ओ हह ह हह ह  मम म म मम म म म्मम्म मम म करने लगी . मैंने अब उसकी पैंटी भी निकाल दी और वो पूरी नंगी हो गयी . उसका तराशा हुआ मादक जिस्म देख कर मैं सन्ना रह गया . राजू की किस्मत में सच में बहुत अच्छा योग लिखा था जो उसे ऐसी से बीवी मिली है . मैंने अब उसकी चूत को ध्यान से देखा . पूरी चिकनी, गुलाबी चूत जिस पर कोई बाल नही.. क्या मस्त लग रही थी .. जैसे गुलाब की पंखुडियां हों . मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया . वो अब और जोर से आह हह ह ह हह ऊऊ उ ऊ उई इ ई ई इ इ ई इ ई ई इ ई इ इ उम मम म म मम म मम म म म मम म म म मम म मम म मम आह्ह ह ह हह ह हह ओह्ह ह ह हह ह ह हह हिस्स स स  स स स  स स  स ओ हह ह ह हह ह हह उम मम म उम हह ह हह ह हह ह ह करने लगी . लगभग 10 मिनट की चूत चटाई के बाद उसकी चूत ने माल छोड़ दिया . मैंने वो सारा माल पी गया .

अब मैंने अपने कपडे उतार दिए . वो मेरा ७ इंच का लंड देखकर चौंक गयी . बोली – इना बड़ा !!! मैंने कहा – हाँ, लें टेंशन मत लो, आराम से करूंगा . उसका मन तो नही था लेकिन जब मैंने कहा तो वो मान गयी और मेरे लंड को चूसने लगी . उसके मुंह से ग्ग्प प्प प प प्प प प प्प प प प्प प प्प प पपप प प प्प ग्ग्ग्ग प्प प्प प प्प प प प्प प प की अवा आ रही थी . मुझे जोश आ रहा था और मैं भी आह हह ह हह ह ओ ह हह ह ह हह ह हह ह ह हह उम म मम म मम म म चुसो.. अच्छे से.. पूरा लो मुंह में.. ऊ ह ह ह ह हह ह हह ह ह हह ह ह ह ह ह हह  करने लगा . वो बोली – अब चोदना भी है या बीएस चुस्वाना ही है ? मैंने कहा – अरे भाभी, तुम लेटो तो सही . फिर मैंने उसकी चूत पर लंड टिकाया और अन्दर कर दिया . उसकी चूत काफी कसी थी . उसे दर्द होने लगा . मैंने निकाल लिया और फिर से डाल दिया . वो रोने लगी और उ ऊ ऊ उ इ ई इ ई इ ई ई ईई ई इ इ इ मर गयी इ ई इ इ ई इ इ इ ई इ इ इ ई इ इ ईई आह्ह ह ह ह हह हह ह  निकालो इसे,, आह्ह ह ह ह ह हह ह ह हह  मर गयी मैं.. आहाह हह ह ह हह ह ह हह ह करने लगी . मैंने सोचा इस वक्त थोड़ी देर के लिए निकालना ही सही रहेगा वरना राजू को गुस्सा आ गया तो पंगा हो जाएगा . मैंने लंड निकाल लिया और निशा को और गर्म करने के लिए उको किस करने लगा .

आगे की कहानी मैं अगले भाग में बताता हूँ .